PBN क्या है PBN से बैकलिंक्स कैसे बनाये ?

सर्च इंजन ऑप्टिमाइज़ेशन में बैकलिंक्स का कितना महत्व हैं यह बात तो आप सभी को पता ही होगी और बैकलिंक्स पाने के कई तरीके हैं उन सभी तरीके में से एक तरीका हैं Pbn से तो क्या आप जानते हैं की PBN क्या है PBN से बैकलिंक्स कैसे बनाये ? क्या PBN का इस्तेमाल करना सही हैं और क्या हमें Pbn के द्वारा बैकलिंक्स बनाना चाहिए। अगर आप भी Pbn – Private Blog Network के बारे में सबकुछ जानना चाहते हैं तो आप इस पोस्ट को लगातार पढ़ते रहिये

दोस्तों कभी न कभी आपने परसनल ब्लॉग नेटवर्क के बारे में जरूर सुना होगा लेकिन क्या आप जानते हैं की परसनल ब्लॉग नेटवर्क क्या हैं और परसनल ब्लॉग नेटवर्क कैसे बनाया जाता हैं। अगर आप PBN क्या है PBN से बैकलिंक्स कैसे बनाये ?के बारे में नहीं जानते हैं तो आप इस पोस्ट को लगातार पढ़ते रहिये आज हम इसी के बारे में बात करने वाले हैं। 

PBN क्या हैं ?

PBN एक तरह का ब्लॉग का समूह होता हैं जिसमे बहुत सारे ब्लोग्स होते हैं। ये ब्लोग्स आपस में एक दूसरे से जुड़े हुए होते हैं। ये ब्लोग्स किसी एक व्यक्ति या संस्था द्वारा बनाया जाता हैं ताकि वे आपने ब्लॉग को गूगल में रैंक करा सकें। 

pbn kya hai pbn se backlinks kaise banaye , pbn in hindi , pbn ki jankari , pbn kaise kaam karata hai , pbn images ,

चलिए इस बात को हम एक उदहारण से समझते हैं जैसे मैंने एक ब्लॉग को गूगल में रैंक करने के लिए अलग अलग ब्लोग्स बनाया और उन ब्लोग्स में अपने मेन ब्लॉग को लिंक कर दिया। इसे ही हम private blog network या PBN कहा जाता हैं। 

PBN का फुलफॉर्म  क्या होता हैं ?

सबसे पहले हम जानते हैं की PBN का फुलफॉर्म क्या होता हैं तो Pbn का फुल फॉर्म होता हैं private Blog Network .या प्राइवेट ब्लॉग नेटवर्क। अब आप Pbn ka fullform जान चुके हैं चलिए अब हम जानते हैं की Pbn क्या हैं और आप Pbn का इस्तेमाल करके पैसे कैसे कमा सकते हैं।

प्राइवेट  ब्लॉग नेटवर्क  कैसे काम करता हैं। 

एक ब्लॉग को गूगल में रैंक कराने के लिए अलग अलग कई सारे ब्लॉग बनाये जाते हैं जो 10 से लेकर 100 या उससे भी अधिक हो सकते हैं। अब इन सभी ब्लॉग में मेन ब्लॉग जिसे गूगल में रैंक करना हैं उसे डूफ़ॉलो बैकलिंक दिया जाता हैं। और इसी बैकलिंक की मदद से मेन ब्लॉग गूगल में रैंक करने लगता हैं। उम्मीद हैं अब आप समझ चुके होंगे की PBN कैसे काम करता हैं। 

प्राइवेट ब्लॉग नेटवर्क से पैसे कैसे कमाए। 

आप अपना खुद का PBN बनाकर भी आसानी से पैसे कमा सकते हैं। उसके लिए सबसे पहले आप अपना एक ब्लॉग नेटवर्क बनाये जिसमे 10 + ब्लोग्स हो अब अगर कोई आपके ब्लॉग नेटवर्क से बैकलिंक खरीदना चाहता हैं तो आप उन्हें बैकलिंक्स बेच सकते हैं। इससे आप अच्छा खासा पैसे कमा सकते हैं। 

Private Blog Network कैसे बनाये ?

प्राइवेट ब्लॉग नेटवर्क को बनाने के लिए सबसे पहले आप आपको कुछ स्टेप्स को फॉलो करना होगा जिससे आप एक सक्सेस्फुल प्राइवेट ब्लॉग नेटवर्क बना सकें। प्राइवेट ब्लॉग नेटवर्क बनाने के लिए आप इन स्टेप्स को फॉलो करें। 

#1 ब्लॉग नेटवर्क टॉपिक 

सबसे पहले आप अपने ब्लॉग नेटवर्क का निश डिसाइड करें। क्योकि अगर आप अलग अलग निश से में ब्लोग्स बनाते हैं  बैकलिंक रैंकिंग में उतना मदद नहीं करेगा। इसलिए सबसे पहले आप निश सेलेक्ट करें जिसमे आप अपना ब्लॉग नेटवर्क बनाना चाहते हैं। 

#2  ब्लॉग थीम 

आप अपने सभी ब्लोग्स के लिए एक अच्छा थीम सेलेक्ट करें ताकि वो प्रोफेशनल लगें। अगर आपका ब्लॉग प्रोफेशनल लगेगा तभी रीडर्स को भी आपका ब्लॉग पसंद आएगा। ब्लॉग के लिए लाइट वेट और seo ऑप्टिमाइज़ थीम का चयन करें। 

#3  ब्लॉग डोमेन 

आप अपने ब्लॉग के लिए अपने निश के रिलेटेड डोमेन नाम ले क्योकि निश रेलेटेड कीवर्ड रैंक करने में बहुत आसान होते हैं। इससे आपको सर्च इंजन ऑप्टिमाइज़ेशन में भी बहुत मदद मिलती हैं। अपने ब्लॉग नेटवर्क के लिए आप एक्सपेरिएड डोमेन नाम भी सलेक्ट कर सकते हैं। 

 प्राइवेट ब्लॉग नेटवर्क  बनाने के फायदे  और नुकसान 

प्राइवेट ब्लॉग नेटवर्क का इस्तेमाल करने में बहुत सारे फायदे हैं और बहुत सारे नुकसान भी हैं।चलिए अब हम बात करते हैं की PBN यानि की प्राइवेट ब्लॉग नेटवर्क का इस्तेमाल करने में क्या फायदे हैं और क्या नुकसान हैं। 

Private Blog Network इस्तेमाल करने के फायदे 

  • इससे आपकी रैंकिंग इम्प्रूव होती हैं। 
  • इससे आपकी वेबसाइट की डोमिन अथॉरिटी बढ़ती हैं। 
  • इससे आपके ब्लॉग पर ट्रैफिक बढ़ता हैं। 
  • इससे आपके ब्लॉग का बैकलिंक बढ़ता हैं। 

Private Blog Network इस्तेमाल करने के नुकसान 

  •   इससे आपके वेबसाइट की रैंकिंग घटने का खतरा होता हैं। 
  •  इसका इस्तेमाल करने से आपके वेबसाइट को पेनलाइज़ होने का खतरा होता हैं। 

अब आप समझ चुके होंगे की आपको pbn यानि की परसनल ब्लॉग नेटवर्क बनाने के क्या फायदे हैं और क्या नुक्सान हैं। अब आप अपने फायदे और नुकसान के आधार पर डिसाइड कर सकते हैं की आपको persnal blog network का इस्तेमाल करना चाहिए या नहीं करना चाहिए। 

Case Study On PBN – persnal Blog Network 

आप यहाँ पर दिए हुए वीडियो में देख सकते हैं की PBN इस्तेमाल करने के क्या नुकसान होते हैं और अगर आप Persnal blog network का इस्तेमाल करते हैं तो आपके वेबसाइट के साथ क्या हो सकता हैं। 

Persnal Blog Network पर अकसर पूछे जाने वाले सवाल 

अब तक मैंने आपको PBN के बारे में बताया लेकिन अभी भी कुछ पाठको को PBN के बारे में कुछ सवाल होगा इसीलिए मैं अब आपको PBN के बारे में अक्सर पूछे जाने वाले कुछ सवालो का जबाब देने वाले हूँ। 

क्या PBN गैर क़ानूनी हैं ?

क्या Pbn का इस्तेमाल करना गैर क़ानूनी हैं। जी हां परसनल ब्लॉग नेटवर्क का इस्तेमाल करना पूरी तरह से गूगल की नजर में गैर क़ानूनी हैं। अगर आप इस तरह के किसी भी नेटवर्क का इस्तेमाल अपने ब्लॉग में करते हैं तो आप के ब्लॉग पर गूगल द्वारा पेनलिटी लगने का बहुत खतरा होता हैं। इसलिए आप इस तरह के किसी नेटवर्क का इस्तेमाल न करें। 

PBN बैकलिंक्स क्या हैं ?

pbn बैकलिंक्स उस तरह के बैकलिंक को होते हैं जो की अलग अलग ब्लॉग नेटवर्क द्वारा लिए जाते हैं। ताकि इससे गूगल में आसानी से रैंक कर सकें। 

PBN क्या हैं ?

Pbn एक ब्लॉग नेटवर्क होता हैं जिसमे सभी ब्लॉग को प्राइवेट यानि गुप्त रखा जाता हैं। यह ब्लॉग नेटवर्क एक ब्लॉग को दूसरे ब्लॉग से लिंक किया जाता हैं ताकि दूसरे ब्लोग्स को गूगल में रैंक कराकर टॉप पोजीशन में ले जाया जा सकें। 

 

PBN से पैसे कैसे कमाए ?

आप अपना खुद का परसनल ब्लॉग नेटवर्क बनाकर पैसे कमा सकते हैं। इसके लिए सबसे पहले आपको एक अपना खुद का परसनल ब्लॉग नेटवर्क तैयार करना होगा उसके बाद आप अपने ब्लोग्स का एडसेंसे  अप्रूवल लेकर ट्रैफिक भेजकर पैसे कमा सकते हैं। आप उन ब्लोग्स पर एफिलिएट मार्केटिंग करके अच्छे पैसे कमा सकते हैं। उसके आलवा आप अपने बनाये परसनल ब्लॉग नेटवर्क में बैकलिंक्स को बेचकर भी अच्छे पैसे कमा सकते हैं। 

प्राइवेट ब्लॉग नेटवर्क पर आखिरी शब्द 

परसनल ब्लॉग नेटवर्क बनाकर गूगल में वेबसाइट को रैंक करना बहुत ही आसानी हैं लेकिन यह गूगल की नजर में ठीक नहीं हैं। और जब गूगल यह बात समझ जायेगा की कोई वेबसाइट परसनल ब्लॉग नेटवर्क द्वारा लिए हुए बैकलिंक्स को लेकर रैंक कराती हैं तो उसी दिन गूगल उस वेबसाइट की रैंकिंग डाउन कर देगा या पेनेलाइज़ कर देगा। तो उम्मीद है आप समझ चुके होंगे की PBN क्या है PBN से बैकलिंक्स कैसे बनाये ?

उम्मीद है तो आपको यह पोस्ट अच्छा लगा होगा। आपको यह पोस्ट केसा लगा हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताये। आप इस पोस्ट को सोशल मीडिया पर भी शेयर कर सके ताकि दूसरे ब्लोग्गेर्स को भी PBN क्या है PBN से बैकलिंक्स कैसे बनाये ? के बारे में बता चल सकें। 

3 thoughts on “PBN क्या है PBN से बैकलिंक्स कैसे बनाये ?”

  1. आपने pbn के बारे मे बहुत हि अच्छी जानकारी दी है थैंक्स ।

    Reply

Leave a Comment