Blogger Vs WordPress कौन सा सबसे अच्छा हैं ?

 दोस्तों अभी के समय में बहुत सारे लोग ऑनलाइन एअर्निंग करना चाहते हैं। और वो इसके लिए हमेसा गूगल पर सर्च करते रहते हैं। आजकल ऑनलाइन एअर्निंग करने के कई तरीके हैं। जिसमे से एक हैं ब्लॉग्गिंग। आज के समय में कई लोग ब्लॉग्गिंग करके एअर्निंग करते हैं। वैसे ब्लॉग्गिंग करने के लिए कई प्लेटफॉर्म हैं। जहा पर कोई भी ब्लॉग्गिंग कर सकता हैं। इनमे से कुछ पेड प्लैटफॉर्म्स हैं। तो कुछ फ्री प्लैटफॉर्म्स हैं। Blogger Vs WordPress In Hindi.

अभी के समय में तो वैसे कई ब्लॉग्गिंग प्लैटफॉर्म्स हैं। लेकिन दो सबसे ज्यादा पॉपुलर प्लैटफॉर्म्स हैं। blogger और wordpress  ये दोनों प्लैटफॉर्म्स पर आप अपना ब्लॉग बनाकर पैसे कमा सकते हैं। तो ऐसे में सवाल आता हैं की इन दोनों में से कौन सा प्लेटफॉर्म सबसे बेस्ट हैं। तो इसीलिए आज हम इस पोस्ट में इसी के बारे में बात करने वाले हैं तो अगर आप भी blogger vs wordpress in hindi के बारे में जानना चाहते हैं तो आप इस पोस्ट को लगातार पढ़ते रहिये।

Blogger Vs WordPress In Hindi

blogger vs wordpress in hindi by simple me jankari blogger vs wordpress ki jankari , blogger vs wordpres

ब्लॉगर और वर्डप्रेस में सबसे अच्छा कौन हैं। हम इस पोस्ट में ब्लॉगर और वर्डप्रेस की फायदे और नुक्सान के बारे में जानेंगे। अगर आप एक नए ब्लॉगर हैं तो आपको यह पोस्ट पढ़ना चाहिए ताकि आपको पता चल सके की ब्लॉगर और वर्डप्रेस में कौन सबसे बेस्ट हैं। और आपको कौन सा प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल करना चाहिए।

Blogger क्या हैं ?

ब्लॉगर एक ब्लॉग्गिंग प्लेटफॉर्म हैं जो की गूगल का एक प्रोडक्ट हैं। ब्लॉगर को 23 अगस्त 1999 को पयरा लैब्स के द्वारा बनाया गया था। बाद में ब्लॉगर को गूगल द्वारा खरीद लिया गया। तब से ब्लॉगर गूगल का ही एक प्रोडक्ट हैं।

Blogger क्यों और क्यों नहीं ?

Blogger.com एक फ्री प्लेटफॉर्म हैं जहा पर आप बिना किसी कॉस्ट के ब्लोग्स बना सकते हैं। तो यदि आप एक हॉबी ब्लॉगर हैं। और अपने विचारो को शेयर करने के लिए ब्लॉग बनाना चाहते हैं। तो यह आपके लिए बेस्ट प्लेटफॉर्म हैं।

लेकिन यदि आप ऑनलाइन एअर्निंग करने के लिए ब्लॉग्गिंग करना चाहते हैं। तो ब्लॉगर आपके लिए सही नहीं हैं। क्योकि ब्लॉगर में आपको बहुत सारी लिमिटेशन होती हैं।

Blogger pros

  • यह एक बिलकुल फ्री प्लेटफॉर्म हैं।
  • यहाँ पर आपको बहुत अच्छी सिक्योरिटी मिलती हैं।
  • आपको टेक्निकल ज्ञान की कोई जरुरत नहीं हैं।
  • आप बिना डोमेन नाम के भी ब्लॉग्गिंग शुरू कर सकते हैं।
  • आप अपने ब्लॉग का बेसिक कस्टमाइज़ेशन कर सकते हैं।

Blogger cons

  • यहाँ पर आपको अच्छे फीचर्स नहीं मिल पाते हैं।
  • प्लगिन्स ऐड करने का फीचर्स नहीं मिलता हैं।
  • बहुत ही कम टेम्पलेट मिलते हैं।
  • सपोर्ट फोरम से जल्द रेस्पॉन्ड नहीं मिलता हैं।

वर्डप्रेस क्या हैं ?

वर्डप्रेस में दो प्रकार है एक है WordPress.com और दूसरा हैं WordPress.org हम इस पोस्ट में WordPress.org के बारे में बात करने वाले हैं।

वर्डप्रेस एक open-source software प्रोग्राम हैं। जिसे 27 मई 2003 को बनाया गया था। वर्डप्रेस को Mike Little और  Matt Mullenweg ने बनाया था। वर्डप्रेस PHP और MySQL से बनाया गया हैं।

wordpress क्यों और क्यों नहीं ?

वर्डप्रेस में आप बहुत अच्छी से अपने वेबसाइट को seo ऑप्टिमाइज़ कर सकते हैं। आपको वर्डप्रेस पर बहुत सारी seo प्लगिन्स मिल जाती हैं। जिसकी हेल्प से आप अपने ब्लॉग को seo ऑप्टिमाइज़ कर सकते हैं।

वर्डप्रेस आपको आपके वेबसाइट पर फुल कण्ट्रोल देता हैं। जिससे आप अपने वेबसाइट को अपने जरुरत की हिसाब से बना सकते हैं। वही आपको वर्डप्रेस सपोर्ट फोरम की तरफ से भी बहुत ही अच्छा और जल्द रेस्पॉन्स मिल जाता हैं।

WordPress pros

  • वर्डप्रेस एक बहुत पॉवरफुल प्लेटफॉर्म हैं।
  • आप अपने ब्लॉग में प्लगइन को लगाकर अच्छे से कस्टमाइज़ कर सकते हैं।
  • आप अपने ब्लॉग को अपने अनुसार कस्टमाइज़ कर सकते हैं।
  • यहाँ पर आपको बहुत अच्छा सपोर्ट मिलता हैं।
  • वर्डप्रेस में बहुत सारे थीम्स और प्लगिन्स हैं। जिसका इस्तेमाल आप फ्री में कर सकते हैं।

WordPress Cons

  • वर्डप्रेस में आपके वेबसाइट का हैक होने का खतरा होता हैं।
  • यहाँ पर आपको होस्टिंग खरीदने की जरुरत हैं।
  • आपको अपने वर्डप्रेस ब्लॉग को मैनेज करने के लिए तोड़ी टेक्निकल नॉलेज की जरुरत पड़ती हैं।

Blogger Vs WordPress In Hindi In Detail

ब्लॉगर और वर्डप्रेस दोनों में कई ब्लॉगर अपनी वेबसाइट को होस्ट करते हैं। अगर आप अभी भी कंफ्यूज हैं की आपको कौन सा प्लेटफॉर्म इस्तेमाल करना चाहिए तो चलिए अब हम Blogger vs WordPress In Hindi In Detail में जानते हैं। यहाँ पर अब हम दोनों प्लेटफॉर्म के कुछ फैक्टर्स का तुलना करेंगे।

1. Instalation – स्थापना 

किसी भी प्लेटफॉर्म में सबसे महत्वपूर्ण होता हैं की कोई यूजर उस प्लेटफॉर्म को कितना आसानी से इस्तेमाल कर सकता हैं। वैसे में यह जानना जरुरी हो जाता हैं की ब्लॉगर और वर्डप्रेस दोनों में से कौन सबसे ज्यादा आसानी से इनस्टॉल किया जा सकता हैं।

Installation In Blogger

आप ब्लॉगर में बहुत ही आसानी से  ब्लॉग बना सकते हैं। ब्लॉगर में ब्लॉग बनाने के लिए आपको ब्लॉगर पर जाना हैं। फिर अपने जीमेल अकाउंट से sign उप करना हैं। फिर अपने वेबसाइट का नाम और ब्लॉग यूआरएल सेलेक्ट करने के बाद अपना ब्लॉग बना सकते हैं।

Installation In WordPress

इंस्टालेशन प्रक्रिया में ब्लॉगर में बहुत आसान हैं।  ब्लॉगर में बहुत ही आसानी से ब्लॉग बना सकते हैं। लेकिन वही वर्डप्रेस में ब्लॉग बनाना मुश्किल है। वर्डप्रेस में ब्लॉग बनाने के लिए आपको होस्टिंग और डोमेन नाम लेकर सबसे पहले cpanel के द्वारा वर्डप्रेस इनस्टॉल करना पड़ता हैं। 

2. Cost – खर्च 

अगर कॉस्ट की बात करे तो ब्लॉगर में आप बिना कुछ खर्च किये भी ब्लॉग बना सकते हैं। वही आप वर्डप्रेस में होस्टिंग और डोमेन नाम लेने की जरुरत हैं।

Cost In Blogger 

ब्लॉगर में आप एक डोमेन नाम लेकर भी ब्लॉग बना सकते हैं। एक डोमिन नाम की कीमत 10 $ / वर्ष आती हैं। इस लिए आपको ब्लॉगर पर आपको ज्यादा खर्च करने की जरुरत नहीं हैं।

Cost In WordPress

वही आपको  वर्डप्रेस   में एक अच्छा होस्टिंग लेकर डोमेन नाम कनेक्ट करके की ब्लॉग बना सकते हैं। आपको होस्टिंग और डोमेन नाम का पूरा खर्च 50 $ / वर्ष आती हैं।

3. Control – नियंत्रण

यह फैक्टर भी काफी महत्वपूर्ण हो जाता हैं की कौन सा प्लेटफॉर्म में आपको ज्यादा कण्ट्रोल मिलता है। ताकि आप उस प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल कर सके।

Control In blogger

ब्लॉगर गूगल का एक प्रोडक्ट हैं। और अगर आपका ब्लॉग गूगल के किसी भी पालिसी को वायलेट करता हैं तो आपका ब्लॉग को गूगल डिलीट कर सकता हैं। और फिर आप उस ब्लॉग को दोबारा कभी नहीं पा सकते हैं।

Control In WordPress

वही वर्डप्रेस एक ओपन सोर्स प्रोग्राम है यानि की वर्डप्रेस पर किसी कंपनी या किसी व्यक्ति का अधिकार नहीं है। इसलिए आपको वर्डप्रेस में आपको फुल कण्ट्रोल मिलता हैं। यहाँ पर आपके ब्लॉग को सिर्फ आप डिलीट कर सकते हैं।

4. Features – विशेषताएं 

अलग अलग प्लेटफॉर्म की अपनी अलग अलग फीचर्स होती हैं। और ब्लॉगर और वर्डप्रेस की भी अपनी अलग अलग फीचर्स हैं। इसलिए चलिए जानते हैं की कौन से प्लेटफॉर्म में आपको सबसे अच्छा फीचर्स मिलता हैं।

Features In Blogger

अगर फीचर्स की बात करे तो ब्लॉगर में आप फ्री में या बहुत ही काम पैसे में ब्लॉग बना लेते हैं। इसीलिए आपको ब्लॉगर में उतना ज्यादा फीचर्स नहीं मिलता हैं। ब्लॉगर पर आपको सिर्फ कुछ बेसिक सा फीचर्स ही मिल पता हैं। जिसकी मदद से आप अपने ब्लॉग को मैनेज कर सकते हैं।

Features In WordPress

वही वर्डप्रेस में आपको बहुत सारे एडवांस फीचर्स मिलते है जैसे आप वर्डप्रेस में बहुत सारे फ्री और प्रीमियम थीम्स और प्लगिन्स का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके अलावा भी आपको ऐसे कई सारे फीचर्स देता हैं जिसकी मदद से आप अपने वेबसाइट को और भी अच्छा बना सकते हैं।

5. Security – सुरक्षा 

चलिए अब वर्डप्रेस और ब्लॉगर की सिक्योरिटी को लेकर बात करते हैं। किसी भी ब्लॉग के लिए सिक्योरिटी सबसे जरुरी चीज होती हैं। तो हमें इन दोनों प्लैटफॉर्म्स की सिक्योरिटी को लेकर बात करते हैं।

Security In Blogger

जैसा की हम सब जानते ब्लॉगर गूगल का प्रोडक्ट हैं। और और गूगल का सिक्योरिटी सबसे पॉवरफुल होता हैं। इसीलिए आपको ब्लॉगर पर हैकिंग का कोई खतरा नहीं हैं। और आपका ब्लॉग कभी भी ब्लॉगर पर हैक नहीं होगा।

Security In WordPress

लेकिन वर्डप्रेस एक ओपन सोर्स प्लेटफॉर्म हैं। इसीलिए वर्डप्रेस पर आपके वेबसाइट के हैक होने का खतरा ज्यादा होता हैं। वर्डप्रेस पर आपको अपने ब्लॉग को हैकिंग से बचाने की भी जरुरत  हैं। इसलिए आपको अपने वर्डप्रेस ब्लॉग को हैकर से भी सेव रखने की कोसिस करना हैं।

6. storage – संचयन 

हम ब्लॉग में जो कुछ भी कंटेंट अपलोड करते हैं। उसमे यह जरुरी हो जाता हैं की किस प्लेटफॉर्म पर सबसे ज्यादा स्टोरेज मिलता हैं।

Storage In Blogger

ब्लॉगर में आपको 1 GB स्टोरेज मिलता हैं लेकिन अगर को गूगल ड्राइव का इस्तेमाल करते हैं तब आपको 15 GB एक्स्ट्रा स्टोरेज मिल जाती हैं। इसलिए ब्लॉगर में आपको स्टोरेज लिमिटेड मिलता हैं।

Storage In WordPress

वही वर्डप्रेस में आपको अनलिमिटेड स्टोरेज मिलता हैं। और अगर किसी होस्टिंग का स्टोरेज लिमिटेड हैं तो आप उसे बढ़ा सकते हैं। इसीलिए वर्डप्रेस में आपको स्टोरेज की चिंता करने की जरुरत नहीं हैं। यहाँ पर आपको अनलिमिटेड स्टोरेज मिलता हैं।

7. Migration – स्थान्तरण 

हर एक ब्लॉगर अपने ब्लॉग्गिंग करियर की शुरुआत blogger.com से करता हैं। और बाद में वर्डप्रेस पर मूव कर देता हैं। इसलिए ये जानना जरुरी हो जाता हैं की आप किस प्लेटफॉर्म से अपने ब्लॉग को आसानी से ट्रांसफर कर सकते हैं।

Migration In Blogger

जब आप अपने ब्लॉग को ब्लॉगर से किसी दूसरे प्लेटफॉर्म जैसे वर्डप्रेस पर माइग्रेट करते हैं तब आपके ब्लॉग आपके ब्लॉग की रैंकिंग और ब्लॉग की ट्रैफिक पर बहुत गहरा इफ़ेक्ट आता हैं। इससे धीरे धीरे आपकी ब्लॉग की ट्रैफिक काम होती जाती हैं। और 0 हो जाती हैं। इसीलिए अपने ब्लॉग को ब्लॉगर से किसी और प्लेटफॉर्म पर माइग्रेट करना मुश्किल हैं।

Migration In WordPress

वही वर्डप्रेस में आप अपने वेबसाइट / ब्लॉग को किसी भी अन्य प्लेटफॉर्म पर बहुत ही आसानी से माइग्रेट कर सकते है। इससे आपके ब्लॉग की रैंकिंग पर बहुत काम या न के बराबर फर्क पड़ेगा। इससे आपकी ट्रैफिक भी कम नहीं होगा।

8. Support – मदद 

किसी भी प्लेटफॉर्म का सबसे अच्छा यूजर एक्सपीरियंस देने का फैक्टर होता हैं की कौन सा प्लेटफॉर्म आपको सबसे अच्छा सपोर्ट देता हैं। इसीलिए चलिए जानते हैं की blogger vs wordpress में कौन सबसे अच्छा सपोर्ट प्रदान करता हैं।

Support In Blogger

अगर ब्लॉगर की बात करे तो ब्लॉगर अपने यूजर को बहुत ही कम यानि लिमिटेड सपोर्ट देता हैं। ब्लॉगर का सपोर्ट फोरम निष्क्रिय जैसा हैं। यहाँ पर आपको अपने सवालो का जबाब मिलने में बहुत समय लगता हैं।

Support In WordPress

वर्डप्रेस में आपको बहुत ही अच्छा सपोर्ट सिस्टम मिलता हैं। wordpress.org का सपोर्ट फोरम भी बहुत एक्टिव रहता हैं। यहाँ पर आपको प्रीमियम सपोर्ट मिलता हैं। और बहुत सवालो का जबाब जल्द मिल जाता हैं।

9. Backup – बैकअप 

किसी भी ब्लॉग को सुरक्षित रखने के लिए सबसे जरुरी होता हैं। उस ब्लॉग का समय समय पर बैकअप लेना। तो चलिए पता करते हैं की कौन सा प्लेटफॉर्म सबसे अच्छा बैकअप ऑप्शन देता हैं।

Backup In Blogger

ब्लॉगर में आपको अपने डैशबोर्ड के थीम्स सेक्शन में ही बैकअप लेने का ऑप्शन आता हैं। लेकिन ये ऑप्शन आटोमेटिक नहीं होता हैं। आपको खुद समय समय पर अपने ब्लॉग का बैकअप लेना होता हैं वरना तोड़ी सी असावधानी के कारण आप अपने ब्लॉग को खो सकते हैं।

Backup In WordPress

वही वर्डप्रेस में आप अलग अलग प्लगिन्स की मदद से अपने ब्लॉग का आटोमेटिक बैकअप ले सकते हैं। या बहुत सारी होस्टिंग सर्विसेज आपको फ्री या पेड बैकअप ऑप्शन देती हैं। जिससे आपका ब्लॉग का एक निश्चित अंतराल के बाद बैकअप ले लिया जाता हैं।

10. Updates – अपडेट्स 

किसी भी प्लेटफॉर्म को हमेसा अपडेट रखना जरुरी होता हैं। उस प्लेटफॉर्म पर अलग  फीचर्स को ऐड करना और उसको सेफ रखना किसी भी प्लेटफॉर्म के लिए जरूरी होता हैं। तो चलिए जानते हैं की कौन सा प्लेटफॉर्म सबसे ज्यादा अपडेट देता हैं।

Updates In Blogger

अगर ब्लॉगर में अपडेट की बात करे तो ब्लॉगर में बहुत कम उपदटेस आते हैं। जिसकी वजह से ब्लॉगर पर बहुत कम फीचर्स मिलते हैं। ब्लॉगर में बहुत सालो में कभी कभी ही अपडेट आती हैं।

Updates In WordPress

अपडेट के मामले में वर्डप्रेस बहुत अच्छा प्लेटफॉर्म हैं। यहाँ पर लगभग हर महीने कुछ न कुछ अपडेट आती हैं। जिससे यूजर एक्सपीरियंस अच्छा होता हैं यहाँ पर अलग अलग अपडेट में अलग अलग फीचर्स ऐड होते हैं। इस लिए अपडेट के मामले में वर्डप्रेस ब्लॉगर से बहुत अच्छा हैं।

11. SEO – सर्च इंजन ऑप्टिमाइज़ेशन

अगर आपको अपने ब्लॉग पर ट्रैफिक लाना हैं तो आपको अपने ब्लॉग को अच्छे से ऑप्टिमाइज़ करना होगा जिससे आपका ब्लॉग सर्च इंजन में अच्छी से रैंक कर सके। चलिए जानते हैं की इन दोनों में से कौन सा प्लेटफॉर्म सबसे अच्छा सर्च इंजन ऑप्टिमाइज़ेशन देता हैं।

SEO In Blogger

अगर ब्लॉगर की बात करे तो ब्लॉगर में आपको सर्च इंजन ऑप्टिमाइज़ेशन के लिए अच्छा फीचर्स नहीं देता हैं। यहाँ पर सर्च इंजन ऑप्टिमाइज़ेशन नहीं होने के कारण आपका ब्लॉग अच्छा रैंक नहीं कर सकता हैं।

SEO In WordPress

वही वर्डप्रेस में आपको अलग अलग प्रीमियम और फ्री seo प्लगिन्स मिल जाते हैं जिसकी मदद से आप अपने कंटेंट को SEO ऑप्टिमाइज़ कर सके। इससे आपके ब्लॉग को गूगल में रैंक होने में मदद मिलती हैं।

Blogger Vs WordPress पर Matt Cutts  की राय

तो अगर आप एक नए ब्लॉगर हैं और ब्लॉग्गिंग सीखना चाहते हैं तो आप ब्लॉगर पर ब्लॉग बना सकते हैं। लेकिन अगर आप प्रोफेशनल ब्लॉग्गिंग करना चाहते हैं तो आप वर्डप्रेस का इस्तेमाल करके ब्लॉग बनाये।यहाँ पर आप Matt Cutts की blogger Vs WordPress पर क्या राय है सुन सकते हैं। 

 

Blogger Vs WordPress पर आखिरी शब्द

ब्लॉगर और वर्डप्रेस दोनों ब्लॉग्गिंग में उपयोग किये जाने वाले प्लेटफॉर्म हैं। ब्लॉगर पर आपको होस्टिंग खरीदने की कोई जरुरत नहीं होती हैं।  वही वर्डप्रेस पर ब्लॉग बनाने के लिए आपको होस्टिंग और डोमेन लेने की जरुरत हैं। दोनों प्लेटफॉर्म की कुछ खामिया हैं तो कुछ फायदे हैं। जैसे की मैंने कहा की अगर आप एक नए ब्लॉगर हैं और ब्लॉग्गिंग सीखना चाहते हैं तो आप ब्लॉगर पर ब्लॉग बना सकते हैं। लेकिन अगर आप एक प्रोफेशनल ब्लॉग्गिंग करना चाहते हैं और ब्लॉग्गिंग में अपना नाम और ब्रांड बनाना चाहते हैं तो आप वर्डप्रेस पर ब्लॉग बना सकते हैं।

तो दोस्तों उम्मीद हैं आपको अब समझ आ चूका होगा की Blogger Vs WordPress In Hindi में आपको कौन सा प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल करना चाहिए। आपको यह पोस्ट केसा लगा हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताये। अगर आपको यह पोस्ट अच्छा लगा हो तो आप इस पोस्ट को सोशल मीडिया पर भी शेयर कर सकते हैं।

Leave a Comment